Time Thoughts


कलम उठाई है लफ्ज़ नहीं मिलता, जिसको ढूंढ़ रहे हैं वो शक्स नहीं मिलता, फिरते हैं वो जमाने की तलाश में, बस हमारे लिए ही उन्हें वक़्त नहीं मिलता..


  वक्त किसी के लिए रुकता नहीं 

झुकने से भी ये झुकता नहीं 
  जी ले इस पल को जितना जीना है
 फिर दर्द में इंसान झुकता नहीं 




वक़्त कहता है फिर ना आऊगा, आप की आँखों को न अब रूलाऊगा, जीना है तो इस पल को जी लो, शायद मै कल तक ना रूक पाऊगा।

1 comment:

  1. Absolutely true....west kisi k liye nhi rukta

    ReplyDelete